गूगल ट्रेंडस पर छाया कोरोना
Sponsored Links

 ट्रेंड्स में अब फैशन या सेलिब्रेटी नहीं, बल्कि कोरोना ही छाया हुआ है। शहर का हर दूसरा व्यक्ति कोरोना और उसकी दवा के बारे में जानने की कोशिश कर रहा है। पूरे देश की बात करें तो हर तीसरा व्यक्ति भयभीत है और इसके बारे में जानने की कोशिश में लगा है। नोएडा में हर व्यक्ति रोजोना कोरोना सर्च कर रहा है। देश में अगर बात करें तो पिछले दस दिन में कोरोना वायरस की सर्च 1200 फीसदी बढ़ गई है। देश नहीं, बल्कि दुनिया में जो भी चीजें सबसे अधिक सर्च की जाती हैं, उसे गूगल ट्रेंड्स प्राथमिकता के आधार पर स्थान देता है। अभी तक ट्रेंड्स में किसी देश के प्रधानमंत्री, सेलिब्रिटी या फैशन को ही सबसे अधिक सर्च किया जाता था। पिछले एक महीने की बात करें तो सबसे अधिक सर्च का विषय कोरोना वायरस ही रहा है। देश में कोरोना को लेकर सर्चिंग में सबसे अधिक तेजी पिछले सात दिनों में आई है। गोवा के लोग सबसे अधिक इसे सर्च कर रहे हैं। दूसरे नंबर पर कर्नाटक और तीसरे नंबर पर अंडमान निकोबार है। यूपी में भी करीब 30 फीसदी लोग रोजाना कोरोना वायरस क्या है, कैसे फैलता है, कैसे बच सकते हैं या उसे ठीक करने वाली दवा को सर्च कर रहे हैं। चीन में जब वायरस तेजी से फैल रहा था, तब देश में कोई दहशत नहीं थी। 26 जनवरी तक के डाटा की बात करें तो इंडिया से कोरोना वायरस को लेकर सर्च करने वालों की संख्या करीब एक फीसदी से भी कम थी। जबकि 14 मार्च के बाद यह संख्या बढ़कर करीब 98 फीसदी पहुंच गई है।

देश में पिछले सात दिन में यहां हुई अधिक सर्चिंग

गोवा 100 फीसदी

कर्नाटक 74 फीसदी

अंडमान निकोबार 73 फीसदी

महाराष्ट्र 72 फीसदी

नागालैंड 70 फीसदी

उत्तर प्रदेश 30 फीसदी

गूगल ने लांच की एजुकेशनल कोरोना वायरस वेबसाइट

अमरीका के दिग्गज सर्च इंजन गूगल ने शनिवार को एक एजुकेशनल कोरोना वायरस वेबसाइट लांच की। इसमें महामारी के बारे में सुरक्षा और आधिकारिक जानकारियां दी गई हैं। इससे पहले अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक सप्ताह पहले ही प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर दावा किया था कि गूगल कोरोनो वायरस के लिए एक स्क्रीनिंग वेबसाइट का निर्माण करेगी, जो लोगों को टेस्टिंग साइट के लिए निर्देशित करेगी। गूगल ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि वेबसाइट ‘गूगल डॉट कॉम/कोविड-19’ शिक्षा, रोकथाम और स्थानीय संसाधनों पर केंद्रित है। लोग इसके माध्यम से कोविड-19 से संबंधित राज्य-आधारित सूचना, सुरक्षा व रोकथाम के उपाय, खोज और रुझान के संसाधन पा सकते हैं। कंपनी ने कहा, अमरीका में साइट को लांच कर दिया गया।

Sponsored Links
News Reporter