गूगल के नए फीचर, स्मार्ट और आसान बनेगी जिंदगी
Sponsored Links

कन्ज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक शो में एक से बढ़कर एक टेक्नॉलजी को शोकेस किया जा रहा है। गूगल भी इस खास इवेंट में अपने नए प्रॉडक्ट और सर्विसेज को शोकेस कर रहा है। कंपनी ने इसके लिए CES में एक डेडिकेटेड बूथ भी ले रखा है जहां वह अपनी नई सर्विसेज का डेमो भी दे रही है। गूगल की कोशिश है कि वह गूगल होम और गूगल असिस्टेंट ऐप से यूजर्स को सभी स्मार्ट होम सलूशन उपलब्ध कराए।

कंपनी ने इसके लिए अपने गूगल असिस्टेंट ऐप में कुछ नए टूल शामिल किए हैं। ये टूल यूजर्स की लाइफ को स्मार्ट और आसान बनाने का काम करेंगे। आइए जानते हैं क्या हैं ये नए टूल और कैसे इनका इस्तेमाल किया जा सकता है।

गूगल असिस्टेंट में यूजर प्रिवेसी को बेहतर करने के लिए दो नए टूल आए हैं। इसमें पहला है कि अगर आपने गलती से गूगल असिस्टेंट को ऑन कर दिया है तो आप इसे कह सकते हैं ‘hey google that wasn’t for you (गूगल यह तुम्हारे लिए नहीं था)’। ऐसा करने से गूगल असिस्टेंट फिर से बंद हो जाएगा। गूगल अपने असिस्टेंट फीचर से कम्यूनिकेट करने के लिए प्रिवेसी को भी कुछ हद तक ऐक्सेस करता है। गूगल असिस्टेंट का दूसरा प्रिवेसी टूल इसी को मैनेज करता है। अब आप गूगल असिस्टेंट से ‘Hey Google are you saving my audio data (गूगल क्या तुम मेरा ऑडियो डेटा सेव कर रहे हो)’ पूछ सकते हैं। इसके बाद गूगल असिस्टेंट आपको प्रिवेसी कंट्रोल के बारे में बताने के साथ ही फोन ऐप में सेटिंग्स स्क्रीन को ओपन कर देगा ताकि आप अपने प्रिवेसी प्रिफरेंस में बदलाव कर सकें।

गूगल असिस्टेंट में आप अभी भी ऑडियो बुक्स और ईमेल्स को पढ़ सकते हैं। हालांकि, अब गूगल इसमें ‘read longer article aloud’ फीचर भी ऐड कर रहा है। असिस्टेंट से किसी पेज को पढ़वाने के लिए यूजर को केवल ‘Hey Google read this page’ का कमांड देना होगा। इसकी एक और खास बात है कि हर लाइन से साथ यह पेज को नीचे स्क्रॉल भी करता है ताकि यूजर जान सकें कि अभी वे आर्टिकल में किस पैरा या लाइन पर हैं। इसे 42 भाषाओं में ट्रांसलेट भी किया जा सकता है। ऐंड्रॉयड डिवाइसेज में यह फीचर ‘Read it’ के नाम से मिलेगा। कंपनी आने वाले कुछ महीनों में इस फीचर को उपलब्ध कराएगी।

कंपनी की कोशिश है कि वह अब यूजर्स को उन डिवाइसेज को भी गूगल अकाउंट से लिंक करने की सुविधा दे जिन्हें गूगल ने नहीं बनाया है। उदाहरण के तौर पर किसी लाइटिंग कंपनी के स्मार्ट बल्ब को ले सकते हैं। ये स्मार्ट बल्ब गूगल असिस्टेंट से नहीं बल्कि कंपनी द्वारा दिए गए डेडिकेटेड ऐप के साथ ही काम करते हैं। गूगल इसी को बदलना चाहता है। इससे यूजर्स को घर में मौजूद नॉन-गूगल स्मार्ट प्रॉडक्ट को गूगल असिस्टेंट से ऑपरेट करने में काफी सहूलियत होगी। अब आप जब भी किसी स्मार्ट डिवाइस को मैन्युफैक्चरर ऐप से सेट करेंगे तो गूगल आपके फोन पर पुश नोटिफिकेशन देकर बताएगा कि आप डिवाइस को गूगल असिस्टेंट में ऑटोमैटिकली ऐड कर सकते हैं।

अगर आपके घर में माइक्रोवेव, स्मार्ट टीवी, रोबॉट वैक्युम क्लीनर जैसा कोई स्मार्ट डिवाइस मौजूद है तो आप इसके ऑन और ऑफ होने के टाइम को गूगल असिस्टेंट के नए फीचर Schedule Actions से कंट्रोल कर सकते हैं। अगर आपके घर में गूगल असिस्टेंट सपॉर्ट वाला स्मार्ट टीवी है तो आप इस टीवी के ऑफ होने के समय को तय कर सकते हैं। इसके लिए आपको ‘Hey Google turn off the tv at 10 pm’ कमांड देना होगा। यह फीचर इस साल 20 से ज्यादा स्मार्ट डिवाइसेज के लिए रोलआउट होने वाला है।

Sponsored Links
News Reporter

Leave a Reply